राष्ट्रपति का शासन किसे कहते हैं “Rashtrapati Shasan Kise Kahate Hain”

Rashtrapati Shasan Kise Kahate Hain

राष्ट्रपति का शासन किसे कहते हैं अक्सर आपने भी समाचारों में सुना या देखा होगा की किसी राज्य या शहर में राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया गया है जिसे की हम केन्द्रीय शासन भी कहते है, कई बार सुनने के बावजूद भी बहुत कम ही ऐसे लोग होंगे जो इसके बारे में जानते हो।

तो आज के इस लेख में हम इसी चीज के बारे में जानेंगे की राष्ट्रपति शासन किसे कहते हैं और यह कब लागू किया जाता है।

राष्ट्रपति का शासन किसे कहते हैं

राष्ट्रपति शासन में सारी शक्तिया राष्ट्र के राष्ट्रपति में समाहित हो जाती है यानी की राष्ट्रपति शासन में किसी भी राज्य का सम्पूर्ण नियन्त्रण मुख्यमन्त्री के बजाय राष्ट्रपति के अधीन होता है, इससे वे राज्य के हित में कोई भी फैसला ले सकता है जिसे राष्ट्रपति शासन या केन्द्रीय शासन कहते है।

राष्ट्रपति शासन केवल एक राज्य तक ही सीमित नहीं होता यह पुरे देश में भी लागू किया जा सकता है या केवल एक शहर में भी, जो कई की कई चीजों पर निर्भर करता है।

राष्ट्रपति शासन लागू किया जाता है जब किसी क्षेत्र में संविधान के उल्लंघन या वहाँ का संवैधानिक तन्त्र विफल हो जाता है इस स्थिति में क्षेत्रीय सरकार को भंग या निलम्बित कर दिया जाता है और राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया जाता है,

राष्ट्रपति शासन लागू होने के अन्य कारण भी है जैसे की जब राज्य विधानसभा में किसी भी दल या गठबन्धन को स्पष्ट बहुमत नहीं हो इस स्थिति में राज्यपाल सदन को छह महीने की अवधि के लिए निलम्बित कर सकता है उसके बाद भी यदि फिर कोई स्पष्ट बहुमत प्राप्त ना हो तो उस दशा में पुन: चुनाव आयोजित किये जाते है जो की 3 वर्षों तक बढ़ाया जा सकता है।

यह अनुच्छेद 356 के तहत लागू किया जाता है जब क्षेत्र का संवैधानिक तन्त्र विफल हो जाता है तो यह केन्द्र सरकार को किसी राज्य सरकार को बर्खास्त करने और राष्ट्रपति शासन लगाने की अनुमति देता है जैसे की अक्सर देखा जाता है जब कोई राज्य सरकार किसी नागरिक अशान्ति जैसे कि दंगे जिनसे निपटने में विफल रही हो इस दशा में राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया जाता है जिससे की केन्द्र सरकार आक्रमण या आन्तरिक अशान्ति की दशा में राज्य की सुरक्षा सुनिश्चित कर सके।

आशा है की यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी इसी प्रकार की जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट को फेसबुक पर फॉलो करें।

जाने :

Leave a Comment

Your email address will not be published.